Mantra of Krishna in Hindi

Mantra of Krishna in Hindi : आज के इस पोस्ट में आप भगवान् श्री कृष्णा के उन सात मंत्रो के बारे में जानेंगे जिसका जाप करने से आपकी सारी कठिनाई और परेशानी दूर होगी। वैसे भी आप जब इन मंत्रो को पढ़ोगे तो आपको अंदर से काफी अच्छा महसूस होगा। आप चाहेंगे कि इनको बार-बार बस पढ़ते ही रहे।

सनातन धर्म जिसको लोग हिन्दू धर्म भी कहते है लेकिन आपको सनातन ही कहना चाहिए। इस धर्म के मुताबिक भगवान् श्री कृष्णा विष्णु के आठवें अवतार है। इन्होने ही भगवद गीता का ज्ञान हम सबको दिया है। गीता के बारे में जितना कहा जाए उतना कम है क्यूंकि इससे बेहतर किताब कोई और हो ही नहीं सकती। इसीलिए तो भागवद गीता को सारे वेदों का सार माना जाता है।

Table of Contents

Mantra of Krishna in Hindi

भगवान् श्री कृष्णा हम सबके लिए काफी मायने रखते है क्यूंकि इन्होने हमे हमेशा धर्म की ओर जाने के लिए प्रेरित किया है। आपको कृष्ण भगवान् के श्रद्धालु सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में मिलेंगे। यहां तक कि काफी बड़े साइंटिस्ट भी इनको मानते है और भागवद गीता भी पढ़ते है।

अब हम आपको भगवान् श्री कृष्णा के 5 ऐसे मंत्र बताने वाले हैं जिससे आपके जीवन में सुख, समृद्धि और ऐश्वर्य की प्राप्ति होगी। साथ में आपकी सारी कठिनाई और परेशानी भी दूर होगी।

  • ॐ कृं कृष्णाय नमः

ये भगवान् श्री कृष्ण का मूल मंत्र या बीज मंत्र है। इसका जाप करने से आपके सारे कष्ट दूर हो जाएंगे। इस मंत्र का जाप करने से आपको अटका हुआ धन प्राप्त हो सकता है। आप इस मंत्र का उच्चारण हर रोज़ कर सकते हैं।

अर्थ – हे भगवान् श्री कृष्ण, मेरा प्रणाम स्वीकार करें और जीवन की हर बाधाओं से मुझे मुक्ति प्राप्त कराएं।

  • ॐ देवकीनन्दनाय विद्महे वासुदेवाय धीमहि, तन्नो कृष्णः प्रचोदयात।

ये भगवान् श्री कृष्ण का दूसरा मंत्र है। इस मंत्र को हम कृष्ण गायत्री मंत्र भी कहते हैं। इस मंत्र का जाप करने से आपके मन से सारे दुःख, दर्द और कष्ट निकल जाएंगे।

अर्थ – भगवान् श्री कृष्ण हमेशा अपने ध्यान में सारे श्रद्धालुओं को लगातार देखते और परखते रहते हैं। भगवान् श्री कृष्ण की सीमा असीम है और कोई अन्य भगवान् या दानव इनकी सीमा को सिमित नहीं कर सकता है। ऐसे सर्वोच्च देवता को मैं अपना आभार प्रकट करता हूँ। हे श्री कृष्ण, मेरी प्रार्थना स्वीकार कीजिये।

  • हरे कृष्ण, हरे कृष्ण, कृष्ण कृष्ण हरे हरे। हरे राम, हरे राम, राम राम हरे हरे।

इस मंत्र को भगवान् श्री कृष्ण का वैष्णव मंत्र भी कहा जाता है। ये 16 शब्दों का एक ऐसा मंत्र है, जो काफी लोकप्रिय भी है और साथ में हर कोई इस मंत्र को आसानी से पढ़ सकता है या जाप कर सकता है। इस मंत्र का उच्चारण करने से आप भगवान् श्री कृष्ण के भक्ति में ऐसे लीन हो जाएंगे कि आपको पता भी नहीं चलेगा कि आप कबसे मंत्र का जाप कर रहे हैं।

अर्थ – हे भगवान्, हे शक्तियों के देवता, कृपया मुझे अपने भक्ति में लीन रखें। मुझे आप अपने कामों में संलंग्न रखें ताकि मेरा जीवन सफल हो सके।

  • ॐ श्रीं नमः श्रीकृष्णाय परिपूर्णतमाय स्वाहा।

ये भगवान् श्री कृष्ण का सप्तदशाक्षर मंत्र है। आम मंत्रो का 108 बार जाप करने से मंत्र सिद्ध हो जाता है लेकिन इस मंत्र को 5 लाख बार जाप करना पड़ता है। जब तक आप 5 लाख बार इसका जप नहीं करेंगे, तब तक आपको इस मंत्र की सिद्धि प्राप्त नहीं होगी। कहते है कि इस मंत्र को 5 लाख बार जपने से आपकी सारी मनोकामनाएं पूरी होती है। आप चाहें जो भी मांगेंगे, ये मंत्र उसे पूर्ण करेगा।

अर्थ – हे भगवान् श्री कृष्ण, मेरी सारी मनोकामनाओं को पूर्ण करें।

  • श्री कृष्ण गोविन्द हरे मुरारी, हे नाथ नारायण वासुदेवा।

इस मंत्र के उच्चारण से आप पर हमेशा भगवान् श्री कृष्ण की कृपा बनी रहेगी। भगवान् श्री कृष्ण हमेशा आपके साथ रहेंगे।

अर्थ – हे भगवान् श्री कृष्ण, हे गोविन्द ( गायों की रक्षा करने वाले ) मेरे सारे दुखों और कष्टों को हर लीजिये। हे मुरारी ( मुरा नाम के राक्षस का वध करने वाले ) जैसे आपने मुरा राक्षस का वध करके उसको मुक्ति दी थी, हमारे दुष्विचारों का भी हरण कर लीजिये।

और पढ़ें : Ganesh Chaturthi Vrat Katha

निष्कर्ष

हमे उम्मीद है कि आपको हमारा ये लेख Mantra of Krishna in Hindi पसंद आया होगा। आप इस तरह की काफी सारी जानकारी हमारे वेबसाइट पर जाकर भी प्राप्त कर सकते है। अगर आपके मन में कोई और सवाल भी है तो बेशक निचे कमेंट करके पूछ सकते है। तब तक के लिए आप सभी को जय श्री कृष्णा।

Print Friendly, PDF & Email

1 thought on “Mantra of Krishna in Hindi”

Leave a Comment